तुलसी के फायदे

भारतीय जीवन में तुलसी का महत्त्व 



भारतीय जीवन तुलसी का बहुत महत्त्व है। हिन्दू समाज नमे तुलसी का उपयोग शारीरिक कस्तो को दूर काने के लिए ही नहीं बल्कि धार्मिक कसर्यो के लिए भी किया जाता है।
हिंन्दू धर्म में तुलसी को सुख और शांति का प्रतीक मन जाता है। जिस घर में तुलसी का पौधा  हरा भरा होता हे वहां भगवान का वास  माना  जाता है। भारतीय लोग २५ दिसंवार को तुलसी पूजन मनाते  है।



तुलसी के मानव जीवन में कई उपयोग हेै जिनमे से कुछ प्रमुख उपयोग निम्न है
तुलसी के फायदे



1.खांसी व जुकाम के उपचार में = सर्दियों में अक्सर बच्चों को खासी व  जुकाम  की शिकायत आ जाती हे।  इके लिए चाय में तुलसी के पत्ते डालकर पीने से राहत  महसूस होती हे।
तुलसी के फायदे

2.अनियमित  दस्त के उपचार में = तुलसी के पत्तों का उपयोग दस्त को रोकने के लिए भी किया जाता हे। तुलसी के पत्तों को जीरे के साथ पीसकर ३-४ दिन तक खाने से दस्त बंद हो जाते हे। 

तुलसी के फायदे

3.मुँह की बदबू दूर करने में  =कई कई लोगो के मुँह से बहुत बुरी बदबू आती हे जिस से वह लोगो से बात करने से दूर भागते हे और मुँह बंद रखते हे।  मुँह की बदबू को दूर करने के लिए सिर्फ तुलसी के पत्ते को मुँह में रखना हे। 

तुलसी के फायदे

4.पाचन समस्या =२०० मि. ली. पानी में १०-१५ तुलसी के पत्तों का कड़ा बना कर पीने से पाचन समस्या दूर हो जाती हे। 

तुलसी के फायदे

5.सौन्दर्य निखार =तुलसी और नीबू के रस का बराबर  मात्रा में चेहरे पर लेप लगाने से झुर्रियां व फुंसियां ठीक हो जाती हे। 

तुलसी के फायदे

6.बबासीर में =इसके बीज को ताज़ा दही के साध लेने से खुनी बबासीर में आराम मिलता हे। 


7.स्वांश सम्बन्धी रोग में =अदरक,शहद और तुलसी के पत्तों का एक गिलास काड़ा  वना  कर पियें जिस से ब्रोंकाइटिस ,दमा,कफ और सर्दी  में राहत  मिलती हे। 

तुलसी के फायदे

8.कान में दर्द =इसके पत्तो को सरसो के तेल में भौम ले और लहसून का रस मिला कर डंडा कर के थोड़ा -थोड़ा कर के २-३ बूँद कान   में डाले जिस से कान  का दर्द बंद हो जाता हे। 

तुलसी के फायदे

9.हृदय रोग में = हृदय रोग से पीड़ित लोगो को इसका सेवन  नियमित करना चाहिए क्योंकि ये खून में कोलेस्ट्रॉल का स्तर  कम  करता हे। 

10.लिवर सम्बन्धी समस्या = इसकी १०-२० पत्तियां गर्म पानी से धोकर रोज सुभह खाने से लिवर की समस्या में बहुत फायदा होता हे। 


11.चक्कर आने पर = शहद में इसकी पत्तियों का रस मिला कर चाटने से चक्कर बंद हो जातें हे। 

12.बुखार आने पर = दो कप पानी में एक चम्मच तुलसी के पत्तों का चूर्ण और एक चम्मच इलाइची पाउडर मिलाकर उबाले  और एक कप काड़ा बना ले और दिन में २-३ बार पिए। स्वाद के लिए आप चाहे तो दूध या चीनी मिला सकते हे। 

तुलसी के फायदे